How to become God’s child

God’s word says…

All have sinned: We are all sinners; we do wrong things (Rom 6:23). God is perfect. He must punish sin (Rom 6:23). We cannot get to Heaven by trying to be good (Eph 2:8-9).

God loves us: God showed his love for us “While we were yet sinners, Christ died for us” (Rom 5:8).

We must believe: God promises eternal life to all who believe on Jesus (Acts 16:31). Jesus, God’s only Son, dies on the cross to take the punishment for our sin; He rose again (John 3:16).

You need to: BELIEVE that you are a sinner and that Jesus died on the cross to take the punishment for your sin. ACCEPT God’s gift of everlasting life (Rom 6:23).

When you believe in Jesus as your saviour, God forgives your sin. He makes you part of his family (John 1:12) and promises you an home in Heaven with Him forever (John 14:2-3).

क्योंकि पाप की मजदूरी तो मृत्यु है, परन्तु परमेश्वर का वरदान हमारे प्रभु मसीह यीशु में अनन्त जीवन है॥ (Rom 6:23)

क्योंकि विश्वास के द्वारा अनुग्रह ही से तुम्हारा उद्धार हुआ है, और यह तुम्हारी ओर से नहीं, वरन परमेश्वर का दान है। और न कर्मों के कारण, ऐसा न हो कि कोई घमण्ड करे। (Eph 2:8-9)

परन्तु परमेश्वर हम पर अपने प्रेम की भलाई इस रीति से प्रगट करता है, कि जब हम पापी ही थे तभी मसीह हमारे लिये मरा। (Rom 5:8)

उन्होंने कहा, प्रभु यीशु मसीह पर विश्वास कर, तो तू और तेरा घराना उद्धार पाएगा। (Acts 16:31)

क्योंकि परमेश्वर ने जगत से ऐसा प्रेम रखा कि उस ने अपना एकलौता पुत्र दे दिया, ताकि जो कोई उस पर विश्वास करे, वह नाश न हो, परन्तु अनन्त जीवन पाए। (John 3:16)

क्योंकि पाप की मजदूरी तो मृत्यु है, परन्तु परमेश्वर का वरदान हमारे प्रभु मसीह यीशु में अनन्त जीवन है॥ (Rom 6:23)

परन्तु जितनों ने उसे ग्रहण किया, उस ने उन्हें परमेश्वर के सन्तान होने का अधिकार दिया, अर्थात उन्हें जो उसके नाम पर विश्वास रखते हैं। (John 1:12)

मेरे पिता के घर में बहुत से रहने के स्थान हैं, यदि न होते, तो मैं तुम से कह देता क्योंकि मैं तुम्हारे लिये जगह तैयार करने जाता हूं।
और यदि मैं जाकर तुम्हारे लिये जगह तैयार करूं, तो फिर आकर तुम्हें अपने यहां ले जाऊंगा, कि जहां मैं रहूं वहां तुम भी रहो। (John 14:2-3)

Comments are closed.